सामाजिक भाईचारे को बनाये रखने हेतु 04/01/22 को अम्बेडकर चौक से सिविल लाइन थाने बिलासपुर , छ ग तक पैदल यात्रा व प्रदर्शन

सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के लिए रचे जा रहे षड्यंत्र के खिलाफ जन-जागरूकता एवं सामाजिक भाईचारे को बनाये रखने हेतु प्रदर्शन के लिए,सभी संविधान समर्थक, धर्मनिरपेक्ष, जनवादी संगठनों के प्रमुख जनों का आवाहन

हिन्दू – मुस्लिम- सिख-सतनामी-आदिवासी- बुद्धिष्ट ईसाई ,आपस में है बहन – भाई

जय जोहार साथियो

वर्तमान में पूरे देश मे और अब हमारे राज्य छत्तीसगढ़ में भी, जातिवादी संघी सरकार और भाजपा आरएसएस के नेता आदि मिलकर, राज्य में सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने में लगे हुए है, कवर्धा से लेकर रायपुर,बिलासपुर सब जगह असंवैधानिक सभाएं हो रही है, ठेकेदारों के जमावड़े लगवाए जा रहे है, यह तब हो रहा है जब आस पास के राज्यों में और आने वाले दो सालों में छत्तीसगढ़ में चुनाव है।
बीते दिनों जो भी सामाजिक भाईचारे और सामाजिक मित्रता में खलल पैदा करने को लेकर को माहौल बनाया गया, साथ ही सरकार और भाजपा आरएसएस के द्वारा हिन्दू राष्ट्र बनाये जाने के लिए कार्यक्रम किया गया
। जिसमे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को बुरे तरह अपमानित किया गया।उसको लेकर हमारे तरफ से बिलासपुर के सिविल लाइन थाने में में दोषी सभी लोगो के विरुद्ध FIR दर्ज करवाने का प्रयास भी किया गया लेकिन सबके विरुद्ध FIR करने से इनकार कर दिया गया।
जिसके बाद हम सभी जनों ने मिलकर तय किया है कि आगामी 04/01/22 को बिलासपुर में विरोध प्रदर्शन किया जावेगा और मुख्यमंत्री के नाम से चिट्ठी लिखी जाएगी जिसको पुलिस प्रसाशन के माध्यम से उन तक पहुचाया जावेगा।
आपसे निवेदन है कि देश व राज्य का जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हम सबको मिलकर इस मामले में आगे आना ही चाहिए, ताकि नफरत के बीज डालने वालो को एक्सपोज़ किया जा सके, और हमारी सामाजिक सामाजिक भाईचारे – बहनापा की मोहब्बत को ज़िंदाबाद रखा जा सके।

ज़रूर आइये🙏🏿

समय – 1 :30 बजे दोपहर
स्थान – अम्बेडकर चौक पर इकट्ठा होकर, सिविल लाइन थाना जाएंगे।
दिनांक – 04/1/2022

आयोजक
1- गुरुघासीदास सेवादार संघ (GSS)

2 लखन सुबोध ( केंद्रीय संयोजक GSS)
3- नंद कश्यप ( सामाजिक कार्यकर्ता)
4 – आनंद मिश्रा ( किसान नेता)
5- नीलोत्पल शुक्ला ( सामजिक कार्यकर्ता)
6- प्रियंका शुक्ला ( GSS अधिवक्ता व सामाजिक कार्यकर्ता)

मो – 8871067410
93018 02425

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here