कोरबाछत्तीसगढ़

मोर आवास, मोर अधिकार योजना पर प्रदेश सरकार द्वारा रोक लगाए जाने के मुद्दे पर भाजपा करेगी प्रदेश व्यापी आंदोलन:- वी रामाराव

कोरबा विधानसभा प्रभारी वी रामराव ने कोरबा जिला भाजपा कार्यालय में आयोजित जिला कार्यसमिति की बैठक को संबोधित किया।

2011 की सर्वे सूची में प्रदेश में 16 लाख हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्का मकान दिलाया जाना था, लेकिन राज्य की भूपेश बघेल सरकार द्वारा गरीबों का हक मार दिया गया

मोर आवास, मोर अधिकार योजना पर प्रदेश सरकार द्वारा रोक लगाए जाने के मुद्दे पर भाजपा करेगी प्रदेश व्यापी आंदोलनज़ कोरबा जिला कार्यसमिति की बैठक में पहली बार शामिल हुए विधानसभा प्रभारी रामा राव ने किया संबोधन

कोरबा :- केंद्रीय की मोदी सरकार ने गरीब, बेसहारा, मजदूर वर्ग के लोगों को पक्का आवास आवंटन करने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना चलाई है, लेकिन भूपेश बघेल की अगुवाई वाली कांग्रेस की सरकार छत्तीसगढ़ के गरीब, किसान, मजदूर और सर्वहारा वर्ग का हक मार रही है। यह बातें कोरबा विधानसभा प्रभारी वी रामराव ने कोरबा जिला भाजपा कार्यालय में आयोजित जिला कार्यसमिति की बैठक में कहीं।
कोरबा विधानसभा प्रभारी बनाए जाने के बाद पहली बार कोरबा में बैठक ले रहे वी रामराव का सर्वप्रथम भाजपा पदाधिकारियों ने आत्मीय स्वागत किया। कोरबा भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ राजीव कुमार सिंह और महामंत्री द्वय संतोष देवांगन एवं टिकेश राठिया द्वारा पुष्प गुच्छ भेंटकर विधानसभा प्रभारी कोरबा वी रामा राव का स्वागत किया गया।
बतौर विधानसभा प्रभारी प्रथम उद्बोधन करते हुए वी रामराव ने कहा कि वंचित, शोषित वर्ग को उनका हक दिलाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार तमाम योजनाये चला रही है, जिसमें प्रधानमंत्री आवास योजना एक महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके तहत 2011 की सर्वे सूची में प्रदेश में 16 लाख हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्का मकान दिलाया जाना था, लेकिन राज्य की भूपेश बघेल सरकार द्वारा गरीबों का हक मारते हुए करीब 11 लाख आवासों पर रोक लगा दी गई है। श्रेय लेने की होड़ में प्रधानमंत्री आवास योजना को बंद कर मोर आवास, मोर अधिकार योजना लागू की गई है लेकिन इस योजना का लाभ किसी को नहीं मिल पा रहा है क्योंकि राज्य सरकार अपने हिस्से की राशि आवंटित नहीं कर रही है। भारतीय जनता पार्टी इसी मुद्दे पर प्रदेश व्यापी आंदोलन की तैयारी में है, जिसे लेकर जिला कार्यसमिति की बैठक कोरबा भाजपा कार्यालय में आयोजित की गई।
वी रामा राव ने आगे कहा कि इस मुद्दे को लेकर भाजपा एक सशक्त विपक्षी दल के रूप में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए ग्राम पंचायत स्तर से विरोध प्रकट करते हुए विधानसभा , जिला स्तर और प्रदेश स्तर पर आंदोलन एवं प्रदर्शन करेगी। इसी क्रम में आगामी 20 जनवरी 2023 को दुर्ग में राज्य स्तरीय धरना प्रदर्शन किया जाएगा, जिसमें अधिक से अधिक कार्यकर्ताओं को शामिल होने का आह्वान किया गया। जिस तरह से पिछले दिनों बिलासपुर में आयोजित म्हातारी हुंकार रैली सफल रही थी, उसी तरह इस आंदोलन के लिए भी उसी तरह की एकजुटता दिखाने की बात कही गई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कथित आर्थिक मॉडल की आलोचना करते हुए व्ही रामा राव ने कहा कि ऐसा मॉडल किसी काम का नहीं जिससे गरीबों का अहित हो रहा हो। मोदी सरकार गरीबों के कच्चे मकान को पक्के मकान में बदल रही थी, ताकि आवास हितो के सर पर पक्का छत मिल सके और उनका सपना पूरा हो सके लेकिन प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने उनसे यह सपना ही छीन लिया।
व्ही रामा राव ने कहा कि 4 साल की कांग्रेस शासन में जनता त्राहिमाम-त्राहिमाम कर रही है। इसलिए विपक्ष के रूप में भाजपा का कर्तव्य है कि वह गरीबों का मुद्दा हर स्तर पर उठाए। इसके लिए उन्होंने इन सभी आंदोलनों में अधिक से अधिक संख्या में कार्यकर्ताओं को शामिल होने का निमंत्रण दिया। बैठक के उद्देश्यों की जानकारी देने के साथ सभी पदाधिकारियों को मिले दायित्व के निर्वहन सुचारू रूप से हो इस पर भी उन्होंने जोर दिया। कोरबा जिला भाजपा कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए विधानसभा प्रभारी व्ही रामा राव ने कहा कि प्रदेश सरकार की हर मोर्चे पर नाकामी यह सुनिश्चित कर रही है कि 2023 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी जबरदस्त वापसी करेगी और एक बार फिर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी। इसके लिए उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से एकजुटता और समर्पण की अपेक्षा की। उन्होंने यह भी कहा कि जनता तक प्रदेश सरकार की नाकामी और भाजपा सरकार की योजनाओं को पहुंचाना होगा।
इस दौरान कोरबा जिला सह प्रभारी गोपाल साहू ने भी सभी मंडल के अध्यक्षों, मंडल के महामंत्री, विभिन्न मोर्चा, प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों , कार्यकर्ताओं को संबोधित कर मोर आवास मोर अधिकार योजना के तहत प्रदेश व्यापी आंदोलन में शामिल होने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता सभी ग्रामीण क्षेत्रों, मंडल, विधान सभा में जाकर लोगों को जागरूक करें। कोरबा जिलाध्यक्ष डॉ राजीव सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि सभी पदाधिकारी अपने अपने क्षेत्र एवं मंडल में होने वाली बैठक के तारीख की सूचना और कार्य योजना की जानकारी अवश्य दें। साथ ही 20 जनवरी 2023 को दुर्ग में होने वाले व्यापक आंदोलन की भी तैयारी आरंभ कर दे। इस अवसर पर कोरबा जिला सह प्रभारी गोपाल साहू, कोरबा विधानसभा प्रभारी व्ही रामा राव, पूर्व विधायक लखन देवांगन ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।
बैठक में अशोक चवलानी, राजेंद्र पांडे, गोपाल मोदी, गोविंद सिंह राजपूत, पूर्व विधायक लखन देवांगन, कोरबा महामंत्री द्वय संतोष देवांगन एवं टिकेश राठिया, नितिन पटेल, महिला मोर्चा अध्यक्ष, विभिन्न प्रकोष्ठ और मंडल मोर्चा के पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *